Home / आधार कार्ड / नकली/फर्जी आधार कार्ड केसे बनाए ?

नकली/फर्जी आधार कार्ड केसे बनाए ?

नकली आधार कार्ड केसे बनाए ? |  Fake ID Card Maker App से नकली आधार कार्ड कैसे बनाये ? | 500 रुपए में बन रहे हैं फर्जी आधार कार्ड | घर बैठे पता करें आपका आधार कार्ड असली है या नकली

आधार एक 12-अंकीय विशिष्ट पहचान आंख है जो कि २०१६ में बायोमेट्रिक और जनसांख्यिकीय डेटा के आधार पर भारत के निवासियों द्वारा प्राप्त की जा सकती है। यह आंकडा भारत के विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) द्वारा एकत्रित किया जाता है। आधार दुनिया का सबसे परिष्कृत आईडी कार्यक्रम माना जाता है। आधार मूल रूप से देश से अवैध लोगों को हटाने के लिए बनाया गया था।

नकली/फर्जी आधार कार्ड केसे बनाएदस्तावेजी गरीब नागरिकों को आधार सुलभ बनाने के लिए, महत्वपूर्ण प्रलेखन की आवश्यकता नहीं है । कई अन्य विकल्प उपलब्ध हैं । बायोमेट्रिक सुविधाओं के उपयोग से दोहराव समाप्त हो सकता है। यह संभव है कि ग्राहक एक झूठे नाम के तहत कार्ड प्राप्त करने को सफल हो जाए लेकिन यह कम संभावना है कि एक व्यक्ति एक अलग (या वास्तविक) नाम के तहत एक और आधार कार्ड प्राप्त करने में सक्षम हो जाएगा ।आधार कार्ड वास्तव में एक सुरक्षित दस्तावेज नहीं है और एजेंसी के अनुसार, इसे एक पहचान पत्र के रूप में नहीं माना जाना चाहिए हालांकि यह अक्सर माना जाता है । हालांकि, वर्तमान में कार्ड को अधिक सुरक्षित बनाने का कोई व्यावहारिक तरीका नहीं है इसलिए इसे पहचान पत्र के रूप में आधार उपयोग किया जाता है । एक आधार कार्ड को मान्य करने का एकमात्र तरीका ऑनलाइन सत्यापन करना है, जो यह पुष्टि करेगा कि कार्ड नंबर मान्य है, धारक के पोस्टल कोड और लिंग की पुष्टि करता है (लेकिन उनका नाम या फोटो नहीं)। इसका मतलब यह है कि एक ही लिंग के साथ एक ही पोस्टल कोड से एक वास्तविक इंसान के मोबाइल नंबर का उपयोग कर एक झूठा आधार कार्ड बनाना संभव है। आप सोच रहे होंगे की नकली आधार कार्ड केसे बनाए ? सम्पूर्ण विधि के लिए नीचे दिए गए विधि को पढ़े या फिर इस वीडियो को अंत तक देखे |

सिर्फ 2 मिनट में नकली आधार कार्ड कैसे बनाये |

नकली आधार कार्ड केसे बनाए ? , आधार कार्ड बनाने का तरीका सरल है। इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए हमें आधार कार्ड केंद्र पर शारीरिक रूप से उपस्थित होना होगा । इसमें बायोमेट्रिक स्कैनिंग होगी जिसमें आइरिस स्कैन और फिंगरप्रिंट्स होंगे जो ग्राहक घर बैठे ऑनलाइन पर खुद से नहीं कर सकते । बॉयोमीट्रिक जानकारी के लिए फिर से जाने की जरूरत नहीं है ।

तो अब हमे पता है कि फर्जी आधार कार्ड बनाना संभव है परन्तु केसे?

मूल आधार कार्ड की एक फोटोग्राफ लें, उसे अपने कंप्यूटर पर अपलोड करें, नाम बदलें और कभी-कभार कार्ड का नंबर और फिर अच्छे पेपर पर उसका प्रिंटआउट मिल जाए । उस प्रिंटआउट को अच्छे से लैमिनेट करवा कर उसे और भी ज़्यादा मूल बना सकते है। यह चाल काम करती है, जैसा कि लोगों ने दावा किया, कुछ कंपनियों को छोड़कर, कोई भी कार्ड नंबर को सत्यापित नहीं करता। अंत में कंपनियों को दोषी ठहराया जाता है और आधार कार्ड को नहीं । कंपनियों हो सकता है जल्दी में परीक्षण आचरण और भागीदार की पहचान के बारे में परवाह नहीं करते। इस कारण से फर्जी आधार बनाना और भी बढ़ गया है।

अधिक जानकारी हेतु टिप्पड़ी करें |

अधिक जानकारी के लिए पढ़े :  आधार कार्ड को पैन कार्ड से लिंक कराना है बेहद जरूरी | पैन कार्ड का महत्व | आधार कार्ड स्टेटस जानने की सरल विधि

Check Also

मास्क्ड आधार कैसे डाउनलोड करें

मास्क्ड आधार कैसे डाउनलोड करें – सम्पूर्ण विधि | मास्‍क्‍ड आधार क्‍या है ?, कैसे करें डाउनलोड ?

मास्क्ड आधार कैसे डाउनलोड करें ? | How to download Masked Aadhaar ? | अपने मोबाइल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *